प्रयागराज में कोरोना कर्फ्यू में भी सक्रिय हैं चोर, श्वसुर के निधन पर फीजियोथेरेपिस्ट गए थे झांसी, चोरों ने खंगाला घर

इस खबर को दूसरों तक भेजें
  •  
  •  
  •  
  •  

                 पंकज सिंह ब्यूरो प्रयागराज
शिवशंकर बिशप जानसन स्कूल में बतौर फीजियोथेरेपिस्ट कार्यरत हैं। कुछ दिन पहले झांसी में रहने वाले उनके श्वसुर का देहांत हो गया था। पांच दिन पहले वह मकान में ताला लगाकर साथ खाँसी चले गए थे। सोमवार को पड़ोसियों ने बताया कि उनके घर का ताला टूटा हुआ है।

 कोरोना कर्फ्यू के दौरान भी शहर में चोरी का सिलसिला नहीं थम रहा है। अब धूमनगंज थाना क्षेत्र के पीपलगांव निवासी फीजियोथेरेपिस्ट शिवशंकर वर्मा के मकान का ताला तोड़कर चोरों ने लाखों रुपये के जेवरात, बर्तन, लैपटॉप सहित अन्य सामान गायब कर दिया। भुक्तभोगी की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है, लेकिन चोरों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

शिवशंकर बिशप जानसन स्कूल में बतौर फीजियोथेरेपिस्ट कार्यरत हैं। कुछ दिन पहले झांसी में रहने वाले उनके श्वसुर का देहांत हो गया था। पांच दिन पहले वह मकान में ताला लगाकर साथ खाँसी चले गए थे। सोमवार को पड़ोसियों ने बताया कि उनके घर का ताला टूटा हुआ है। मंगलवार को जब शिवशंकर घर पहुंचे तो वहां की हालत देख हतप्रभ रह गए। मकान के सभी कमरों के ताले टूटे थे। आलमारी खुली थी और सामान इधर-उधर बिखरा पड़ा था। आलमारी में रखे दो लाख 70 हजार रुपये नकद, सोने और चांदी के गहने, पीतल के बर्तन, लैपटॉप, एटीएम कार्ड, चेकबुक सहित अन्य कीमती सामान गायब थे। चोरी की सूचना पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की। इसके बाद तहरीर के आधार पर मुकदमा कायम किया गया।

इंस्पेक्टर धूमनगंज अनुपम शर्मा का कहना है कि थोंस की तलाश की जा रही है और जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। हालांकि इससे पहले धूमनगंज में ही कोरोना कफ्र्यू के दौरान 40 पेटी देसी शराब और 30 हजार रुपये की शराब की दुकान का ताला तोड़कर चोरी हुई थी। उस घटना का भी अब पर्दाफाश नहीं हो गया। ऐसा तब हो रहा है जब पुलिस सख्ती कर रही है और लगातार चेक्षककगर्ग का दावा कर रही है। लगातार हो रही घटना से लोगों में भय पैदा होने लगा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *