उपार्जन शुरू लेकिन खरीदी केंद्रों में नहीं पहुंचे किसान

उपार्जन शुरू लेकिन खरीदी केंद्रों में नहीं पहुंचे किसान

इस खबर को दूसरों तक भेजें
  •  
  •  
  •  
  •  

अनूपपुर।

समर्थन मूल्य में किसानों से गेहूं, चना, सरसों और मसूर की खरीदी की जानी है। 1 अप्रैल से उपार्जन का कार्य जिले में शासन के निर्देश अनुरूप शुरू तो कर दिया गया है लेकिन किसान कहीं नहीं पहुंचे और ना ही खरीदी हुई। होली त्योहार के बाद किसान फसल की कटाई कर रहे हैं ऐसे में 2 सप्ताह गेहूं खरीदी प्रक्रिया प्रारंभ होने में लगेगा दलहन चना, मसूर की फसल की खरीदी जरूर हो सकती हो लेकिन किसान इनकी उपज बेचने नहीं आ रहे हैं जबकि खरीदी को शुरू हुए 1 सप्ताह बीत चुका है। खाद विभाग द्वारा बताया गया कि अनूपपुर जिले में आठ उपार्जन केंद्र बनाए गए हैं जहां गेहूं के साथ ही चना, मसूर, सरसों पंजीकृत किसानों से खरीदी की जाएगी। अनूपपुर जिले में गेहूं ,चना ,मसूर और सरसों की फसल बेचने के लिए 1800 किसानों ने पंजीयन कराया है। जिले में राजेंद्रग्राम, भेजरी, बेनीबारी, जैतहरी, कोतमा और अनूपपुर में दो खरीदी केंद्र बनाए गए हैं। गुरुवार को यहां किसी भी केंद्र में कोई किसान नहीं पहुंचा सभी जगह सूनापन रहा। रबी विपणन वर्ष 2021- 22 मे एमएसपी पर पंजीकृत किसानों से 1 अप्रैल से आगामी 15 मई तक किया जाना है। बढ़ते कोविड-19 हमले को देखते हुए कलेक्टर द्वारा संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि उपार्जन कार्य में किसी तरह की लापरवाही नहीं होनी चाहिए निर्देशों के तहत उपार्जन एजेंसी का निर्धारण एवं क्रियान्वयन तंत्र ,पंजीयन केंद्र स्थल ,संस्थाओं तथा उनके दायित्व का निर्धारण हो जाए और आने वाले किसानों को कोई असुविधा न हो इसके लिए छाया और पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित रहे साथ ही कोरोनावायरस से बचाव के लिए समिति के अधिकारी,कर्मचारी और किसान मास्क लगाने के प्रति कोताही ना बरतें और सुरक्षात्मक तरीके से खरीदी का कार्य किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *