YES NEWS

WhatsApp जासूसी पर बढ़ा विवाद, कपिल सिब्बल ने सरकार से पूछे 5 सवाल

व्हाट्सएप जासूसी मामले पर जारी विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है. कांग्रेस के दिग्गज नेता कपिल सिब्बल ने केंद्र सरकार से सवाल किया है.
व्हाट्सएप जासूसी मामले पर जारी विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है. कांग्रेस के दिग्गज नेता कपिल सिब्बल ने केंद्र सरकार से सवाल किया है.

कपिल सिब्बल ने कहा है कि इजराइली एनएसओ, स्पाईवेयर Pegasus केवल सरकारों को बेचती है. व्हाट्सएप के जवाब से पहले सरकार इन 5 सवालों का जवाब दे.

कपिल सिब्बल ने सरकार से पूछा है कि सरकार की कौन सी शाखा ने Pegasus खरीदा है. इसे किस कीमत पर खरीदा गया है.
सिब्बल ने पूछा…

1) सरकार के किस विंग ने पेगासस को खरीदा

2) किस कीमत पर खरीदा

3) किसने इसका संचालन संभाला

4) स्नूपिंग के निर्देश किसने दिए

5) अन्य किन प्लेटफार्मों से समझौता किया

‘व्हाट्सएप जासूसी विवाद पर जवाब दे सरकार’

सिब्बल से पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने व्हाट्सएप जासूसी मुद्दे को लेकर सरकार पर प्रहार किया. उन्होंने सवाल किया कि क्या इस काम में इजरायली एजेंसियों को लगाया गया था?

प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, ‘अगर भाजपा या सरकार ने पत्रकारों, वकीलों, सामाजिक कार्यकर्ताओं और राजनेताओं के फोन की जासूसी में इजरायली एजेंसियों को लगाया था तो यह मानवाधिकारों का घोर हनन है और राष्ट्रीय सुरक्षा पर गहरा आघात. हम सरकार के जवाब का इंतजार कर रहे हैं.’

गुरुवार को कांग्रेस ने इस समूचे विवाद की जांच अदालत की निगरानी में कराने की मांग की थी. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा था कि उनकी पार्टी को अंदेशा है कि सुप्रीम कोर्ट व हाईकोर्ट के न्यायाधीशों के अलावा कई विपक्षी नेताओं की जासूसी कराई गई.

कांग्रेस ने यह आरोप ऐसी खबरें आने के बाद लगाई कि पत्रकारों और सामाजिक कार्यकर्ताओं के व्हाट्सएप की जासूसी एक इजरायली एजेंसी एनएसओ द्वारा ‘पेगासस’ सर्विलांस सॉफ्टवेयर का उपयोग कर की गई. जिन लोगों को निशाना बनाया गया, उनकी सूची और पहचान जारी नहीं की गई है.

कांग्रेस ने मोदी सरकार से पूछा है कि भारत सरकार की किस एजेंसी ने ‘पेगासस’ सर्विलांस सॉफ्टवेयर खरीदा और उसका उपयोग करवाया? एजेंसी को ऐसा करने के लिए किसने अधिकृत किया, एनएसए या पीएमओ ने?

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी गुरुवार को ट्वीट कर कहा था, ‘सरकार व्हाट्सएप से जवाब मांग रही है कि भारतीय नागरिकों की जासूसी के लिए किसने पेगासस की खरीद की. यह ठीक ऐसा ही सवाल है, जैसे मोदी दसॉ से पूछ रहे हैं कि भारत को राफेल जेट बेचने में किसने पैसा बनाया.’

Designed By - Fragron Infotech, Call - 7000131032
WhatsApp chat