YES NEWS

एक बेनाम पोस्टर

अभिषेक गुप्ता की रिपोर्ट
मो.8718803846

पेंड्रा

“किसी को महल देता है किसी को घर नहीं देता
ये क्या इंसाफ है मालिक? कोई उत्तर नहीं देता
जिन्हे निद्रा नहीं आती पडे़ हैं नर्म गद्दों पर
जो थक चूर हैं श्रम से उन्हे बिस्तर नहीं देता
ये कैसा कर्म जिसका पीढ़ियाँ भुगतान करती हैं
ये क्या मज़हब है जो सबको सही अवसर नहीं देता
तुम्हारी सृष्टि के कितने सुमन भूखे और प्यासे हैं
दयानिधि! इनके प्यालों को कभी क्यों भर नहीं देता
मुझे विश्वास पूरा है, तेरी ताकत और हस्ती पर
तू क्यों इक बार सबको इक बराबर कर नहीं देता”

अमिताभ त्रिपाठी की ये चार लाइन आज के दौर में अपने सही मायने पेश करती है। जहा एक ओर मुम्बई में वर्ली सी-लिंक के पास अरब सागर की ओर मुह किये अट्हास करता एंटीलिया(दुनिया का सबसे महंगा घर) है वही दूसरी ओर उसी महानगर से जुड़ी हुई तमाम सड़के पैदल चलते भारत के भर के छोटे गाव शहरों के ओर जाते इंडिया के निर्माता विश्वकर्मा पुत्रो को टोली है जो भूखे प्यासे चले जा रहे है।
कोरोना (COVID-19)जैसी वैश्विक महामारी का सबसे ज्यादा असर देश के मजदूरों में देखने को मिल रहा हैं, जो बड़े-बड़े कारखानों,उद्दोगों में काम करते थे। देश में लॉकडाउन लगने के बाद से ही कारखाने,उद्द्योग बंद है। मजदूरों के पास रोजगार का कोई रास्ता ही नहीं बचा हैं। मजदूर बेबस हैं,क्योंकि मालिकों द्वारा भी उनके पिछले महीने तक की तनख्वाह तक नहीं मिली है। जिसके कारण वह परिवार सहित अपने अपने घरों में पहुंचने के लिए सैकड़ों मीलों की दूरी को भी पैदल चलकर पार कर रहे है। इन मजदूरों के पास ना खाने पीने सामान है, ना ही पैसे है कि खाने का सामान खरीदकर खा लें। ऐसे ही मजदूरों के लिए जगह जगह सड़क पर लोगों द्वारा खाने पीने की व्यवस्था की जाती हैं, चाहे फिर वो प्रशासन द्वारा हो या समाजसेवियों द्वारा।

पेंड्रा के दुर्गा चौक में भी एक अनूठी पहल देखने को मिलती हैं जिसमें एक बेनाम पोस्टर लगा है जिसमें केवल चार-पाँच मोबाईल नंबर लिखे हैं साथ में रात्रि विश्राम एवं भोजन की व्यवस्था के लिए संपर्क करने की बात लिखी हैं। रोजाना सैकड़ों मजदूर पेंड्रा से पैदल चलकर गुजरते हैं।जिनके मदद के लिए बेनाम पोस्टर मौजूद हैं, जिसमें लिखे गये मोबाईल नंबरों में कॉल करने से मजदूरों की मदद हो जाती हैं।फिर चाहे खाने-पीने की व्यवस्था हो यह रात्रि विश्राम बेनाम पोस्टर ग्रुप के सदस्य नि:स्वभाव से लोगों की मदद करते हैं।

x

COVID-19

India
Confirmed: 190,609Deaths: 5,408
ine
Designed By - Fragron Infotech, Call - 7000131032
WhatsApp chat