जन शिकायतों के निस्तारण में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं – डीएम

 

  • सम्पूर्ण समाधान दिवस तहसील-मंझनपुर में हुआ आयोजित
  • सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल 67 शिकायती प्रार्थना पत्र दर्ज कराये गये जिसमें 05 शिकायतों को मौके पर ही हुआ निस्तारण

कौशाम्बी । जन समस्याओं के त्वरित निस्तारण हेतु जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में तहसील मंझनपुर में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों को हिदायत देते हुए कहा है कि शिकायतों का निस्तारण शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता वाले विन्दुओं में से एक है इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही या उदासीनता क्षम्य नही है। उन्होंने अधिकारियों को शिकायतों का निस्तारण गुणवत्तापूर्ण ढंग से करने के लिए निर्देशित किया। कहा कि शिकायतों का निस्तारण गुणवत्तापूर्ण ढंग से होने पर शिकायतकर्ता को बार-बार उसी शिकायत के लिए पुनः नहीं आना पड़ेगा। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को मौका मुआयना करते हुए तथा विशेष प्राथमिकता देते हुए जन शिकातयों को निस्तारित करने के लिए कहा। इस अवसर पर कुल 67 शिकायती प्रार्थना पत्र दर्ज कराये गये जिसमें से 05 शिकायती प्रार्थना पत्रों का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया। शेष प्रार्थना पत्रों के निस्तारण के लिये जिलाधिकारी ने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को आज ही अपने विभागों से सम्बन्धित शिकायती प्रार्थना पत्रों को प्राप्त करते हुए तथा स्थलीय निरीक्षण करते हुए शिकायतों का निस्तारण सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि राजस्व से सम्बन्धित प्रकरणों में राजस्व एवं पुलिस विभाग के अधिकारी/कर्मचारी संयुक्त रूप से टीम बनाकर मौके पर जाकर स्थलीय निरीक्षण करते हुये प्रकरणों को गुणवत्तापूर्ण ढ़ंग से निस्तारण करना सुनिश्चित करेंगे। इस अवसर पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 पीएन चतुर्वेदी, प्रभागीय वनाधिकारी ओपी अम्बष्ट, परियोजना निदेशक राकेश कुमार मिश्रा, उप जिलाधिकारी मंझनपुर सतीश चन्द्र, तहसीलदार मंझनपुर बीडी गुप्ता सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – प्रियंका यादव, ब्यूरो चीफ, कौशाम्बी